हमार देश

एक आम आवाज

237 Posts

4359 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 4243 postid : 670194

मूरख पंचायत ,....आदरणीय अन्नाजी !

Posted On: 15 Dec, 2013 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

गतांक से आगे …
सूत्रधार बोले …”आगे बात करेंगे ,..पहिले हमारे पंच अन्नाजी को चिट्ठी लिखवाये हैं !..ऊ सुनो !..”
पंचायत श्रवण को तैयार मिली तो वो शुरू हुए …

“…आदरणीय अन्नाजी को पैर छूकर राम राम परनाम ! ….. अन्नाजी लोकपाल खातिर आप फिर अनशन पर बैठे हैं ,..लुटेरों की सरकार लाने भी वाली है ,…महाभ्रष्ट कुनबे के बच्चा गाँधी अगवानी में बेकरार हैं ,..शायद कुछ बेड़ा निकले ,….आप भी कम ज्यादा लेकर संतुष्ट लगते हैं !….हम कहते हैं कंपलीट लूटतंत्र के खात्मे बगैर कोई कानून काम न करेगा !….लोकपाल अधूरा हो या पूरा बढ़िया लगे या घटिया ,…गुलाम चोर लुटेरों भारतद्रोही शहंशाहों के सत्ताधीश रहते भारत का हित कतई न सधेगा !……..
…हमको गर्व है कि भारत का बुजुर्ग हमारी खातिर अपनी जान दांव पर लगाता है ,……अन्ना जी यह देश शूरवीरों का है ,…आप उसे सार्थक कर रहे हैं ,….. देश भी अपना सच सार्थक करेगा ,… हमारे महान शूरवीर पूर्वज आपसी मतभेद मनभेद अहंकार स्वार्थ के चलते जाने अनजाने देश पर चोट पहुंचाते रहे……भारतमाता को तब तब अथाह दुःख हुआ होगा जब जब उनकी लायक संतानें अलग अलग और आपस में लड़ी !….निजी हित साधन और नाक की लड़ाई में देश का बंटाधार हुआ है ,…..पहले लोग अरविन्द पर आपको भ्रमित करने का आरोप लगाते थे ,…आज अरविन्द खुद आरोप लगाते हैं ,………हम कुछ समझ नहीं पाते ….हम सच में निरामूरख हैं ,.लेकिन इतना समझ सकते हैं … हर भावना से पहले देश होना चाहिए !……आप भारत माता की शूरवीर संतान हैं ,..भारत माता को आप पर गर्व होगा ,…..आपको भी स्वामी रामदेव जी पर महान गर्व होगा !………हमारी औकात नहीं कि हम आपसे कुछ कहें फिरौ विनती करते हैं ‘ सबकुछ छोड़कर दिलो जान से उनके साथ आइये !.’…..आपके सच्चे लोकपाल समेत सब सपने पूरे होंगे ,…..हमारे आपके जैसा झूठा सच्चा पुरुषार्थ लोग बाग करते रहते हैं ,……लेकिन स्वामीजी जैसा महापराक्रम युगों बाद होता है ,..उनके जैसा महान सद्पुरुषार्थ युगीन बदलाव लाता है ,…युगीन बदलाव की सार्थकता पूर्ण एकजुटता में है ,…..अंग्रेजी लूटतंत्र का सर्वनाश करके देश को सनातन महानता वाला लोकतंत्र जल्दी मिलना चाहिए !……हम निरामूरख और दोगले जोकर हैं फिरौ विनयपूर्वक कहते हैं ,…..आपको चालू चंटई में नहीं फंसना चाहिए ,.अन्यथा आत्मा हमेशा कोसेगी !…..तन मन आत्मा से स्वामीजी के साथ जुडिये ……ऊ हमेशा आपके साथ रहे हैं ,…असल एकजुटता होगी तो राष्ट्र उन्नति पथ पर दौड़ेगा !
आपके पुराने चेलों वाली आप ने दूसरे नंबर से दिल्ली जीत लिया है ,…. जोरदार जश्न मनाया !……जरूर मनाना चाहिए था ……..उनको भी हमारी बधाई है ……..अगर आप अरविंद के साथ खुला होते तो शायद केजरीवाल जी शान से दिल्ली के मुख्यमंत्री होते …….फिर जिम्मेदारी से न भागते …अब झूठा अहंकार उनको अंधा बनाए है ,…. शत प्रतिशत बदलाव का चाहत के बादौ तीन चौथाई से ज्यादा लोग आमजाल में नहीं फंसे ,………. पूरा मालदार गैरसरकारी अमला हर तरह से जतन भिडाये रहा ,… घोर अचरज है अव्वल एनजीओ इंतजाम के बादौ दोयम रहे ,……मूरख जनता कुछ तो सही गलत जानती है ,…आप दल पर तमाम शंका संशय भ्रम हैं !…..फिरौ तमाम भारतभक्त उनके साथ जुटे ….जैसे कांग्रेसी जाल में अनेक राष्ट्रभक्त फंसे रहे !……उनकी जड़विहीन दोयम जीत में मीडिया का बहुत अच्छा हाथ रहा ,…….हम माफ़ी मांगते हैं लेकिन जड़विहीन दोयम जीत ही कहेंगे ,..काहे से कि उनकी जड़ नही है !…… परचार महाचार के हिसाब से लटकौव्वा परिणाम बिलकुल फीका बेस्वाद बेकार है ,….. ‘आप’ ने शराब भले न परोसी हो !….मोहक गुलगुलों और जोरदार भावनाओं की मस्त चाशनी भरपूर रही !……जनता बदलाव को बहुत आतुर है ,… सब बदलाव चाहते हैं …ई माहौल में आम आदमी पार्टी का दूसरे नंबर पर रहना उनको तमाचा जैसा लगना चाहिए !…लेकिन ऊ लगाने खातिर बेकरार लगते हैं !..
……अन्नाजी भारत के सभी ह्रदय हमेशा भारत खातिर धड़कते हैं ,….लेकिन अक्सर हरबार मूरख बनाए जाते हैं ,……अन्नाजी बहुत दुखी हिरदय से कहना पड़ता है ,….ई बहुत पुराना कांग्रेसी नुस्खा है ,…बदलाव की बयार में कांग्रेस के विदेशी बाप लोग नए अवसरवादी मोहरे ढूंढते हैं ,……हम नहीं कह सकते कि ऊ कौन है ,..कौन होंगे,… कौन हो सकते हैं ,.. न पहचानने में ऊर्जा खपाने की जरूरत मानते हैं !………लेकिन ई जरूर कहते हैं कि कोई नहीं होना चाहिए !………..कांग्रेस ने आप का भरसक जोश बढ़ाया है ,…..हमारा सबकुछ लूटने वाला गाँधी कुनबा देशभक्तों से सबक नहीं सीख सकता !….ऊ देशभक्तों को मारता मिटाता गिराता है ,…उनका इस्तेमाल करता है …आप की और आपकी जीहजूरी उनकी साजिश हो सकती है ,…करीबन पूरा राजतंत्र उनका गुलाम है ,………आधुनिक दुश्मन का शैतानी खेल सफेदपोश कठपुलियों के सहारे चलता है ,…..चाहे गाँधी कुनबा हो या कोई नया पुराना जुगाड़साज आम खास आदमी संगठन !……..पालतू गुलाम सत्ता को भी पता चल गया कि भारत बदलाव चाहता है ,….उनके माई बाप लोग भी जानते होंगे !…….आम आदमी के नाम पर भारत को भीषण मूरख बनाने का खेल बहुतै पुराना है ,… आगे पीछे हर तरफ से खेल होता है ,..बदलाव निश्चित है …लेकिन……ई बदलाव सार्थक और मानवता को उठाने वाला होना चाहिए !…….
……अन्नाजी फिर कहते हैं कि भारत को अथाह दुःख हुआ होगा जब हमारे अनेक बुजुर्ग आपसी गलत फहमी में लड़ते रहे ,…..हम एकजुट होते तो एक दुश्मन न नोच पाता ,…हमारी सोने का चिड़िया अथाह नोची गयी ,…..आज हमारा का नहीं नोचा जाता है ,..हमारा तन मन धन हमारी नैतिकता हमारा चरित्र हमारी सभ्यता हमारी शिक्षा संस्कार सबकुछ बेदर्दी से नोचा जाता है ,….हमको हरबार बांटकर खाया गया ,……हालिया चुनावी नतीजा आप देखे होंगे ,….स्वामीजी और मोदीजी के प्रचंड पराक्रमी पुरुषार्थी आभामंडल को कांग्रेसमय भाजपा ने किनारे लगा दिया !….खैर बी कांग्रेस का अपनी मजबूरी होगी !…
हम कहते कि लूटतंत्र को जड़मूल से उखाड़ने की बहुत जरूरत है ,….. नया पौध पूरा स्वदेशी भारतभक्त होना चाहिए !….नेहरू गाँधी टोपी टाइप स्वदेशी का भयानक अंजाम आप जानते हैं .. महानता के बोझ में शातिर सफेदपोशी से देश दलाली सब जानते हैं !…..सर्वसुखी सर्वसम्पन्न विश्वगुरु भारत खातिर हमको कांग्रेस के साथ कान्ग्रेसियत भी उजाड़नी होगी ,….यह उजड़कर रहेगी !…….लोकतंत्र में अच्छा विपक्ष बहुत जरूरी है ,… आप पार्टी ने विपक्ष बना लिया है !…..सतपथ पर साथ चलने खातिर उनको शुभकामना है ,….लेकिन ऊ सच्चाई पर चलेंगे या नहीं कोई नहीं जानता !………अबकी संशय में गिरे तो भारत को होने वाले महाभीषण जख्म दर्द का उत्तरदायी कौन होगा !…… सच्चे भारतीय पक्ष की भरपूर मजबूती सबसे जरूरी है ,….कौनो अंधे इंसान से हम सच्चा भारतीय पक्ष पूंछेंगे तो ऊ बिना सूंघे बोलेगा ….बाबा रामदेव !…भारत स्वाभिमान !…..लेकिन आँख में सत्ताई सपना लेकर नाक में रुई घुसाने वाले लोग हमेशा देश को बरगलाते हैं ,…हमको केजरीवाल कंपनी से तनिक तकलीफ नहीं लेकिन ….उनकी चालू कान्ग्रेसियत से डर है !..जब ई लोग सुन्दर सपने दिखाकर भारत माता के नारे लगाते हैं तो पुराने खौफ पुराने दर्द उभरते हैं ,…नेहरू मंडली भी यही करती थी !……हम सलाह देने वाले कोई नहीं होते फिरौ फिर देते हैं ,….आपको अपनी हर आशा पूरे विश्वास के साथ स्वामीजी के सुपुर्द करनी चाहिए ,…आप खुद को गांधीजी का अनुयायी मानते हैं ,..हमको उनसे भी सीखना चाहिए ,….उनका सबसे बड़ा अपराध शैतानी व्यक्तिमोह था !..उसका कारण महानता वाली लंगोटी लाठी होगी ….उस अपराध के नुक्सान का अंदाजा आपको जरूर होगा !…
आप कई दिन से भूखे हैं !…निराहार शरीर में सत्य और प्रचंड होता है ,…इसका प्रत्यक्ष उदाहरण आप ने घमंड में चूर उनके ‘आप’ को दे दिया है !…..बड़ी सत्ता के मोही दल केजरीवाल के लोग सही बात भी नहीं सुनना चाहते हैं !…जनरल साहब ने वही कहा जो भारत हमेशा चीखकर कहता है ,…एक बनो नेक बनो !…इस बातपर प्रतिवाद भारत का अपमान है !..आपने यह समझा और उनको भगाया ,…हम आपको नमन करते हैं ,… हमको फिर आपपर गर्व है !……..हमारी आप से फिर करुण विनती है ,..देश बहुत भूखा है ,..आप शान्ति से भोजन ग्रहण करिये !……..सब मोह कामना छोड़कर खुले मन खुशदिली से स्वामीजी का समर्थन कीजिये ,…उनसे कहिये कि राजतंत्र के उत्थान खातिर सक्षम काबिल लोंगों का अखिल भारतीय राष्ट्रदल बनायें ,…पूरा देश उनके साथ है ,..सब बिखरे राष्ट्रभक्त उनके साथ होंगे ……..अपने सच्चे साथियों को उनका अनुगामी बनने की प्रेरणा दीजिए !……..आप आनंद से विश्राम करते हुए विजयी होता भारत देखिये !….
उठी मानवता हर मानव का आधा अधूरा पूरा स्वप्न होता है ,…हर कोई उठना चाहता है ,.. कोई जयचंद मीरजाफर पैदाइशी गद्दार नहीं होता !….परिस्थिति गद्दारी खातिर उकसाती हैं और कच्चा इंसान गद्दार बन जाता है !…..अहंकार लोभ मोह अपमान जैसी इंसानी भावनाओं का इस्तेमाल कर विदेशी लुटेरे हमेशा ऐसा करते रहे …..सफेदपोश काबिल जयचंदों से भारत भूमि कराहती है !…..ई खातिर हमको कच्चे नहीं पक्के सच्चे लोगों पर पूरा विश्वास करना चाहिए !..योग प्राण के साधक पक्के होते हैं …भारत भक्त पक्के होते हैं !….स्वामीजी पर दर्ज मुकदमों का फेहरिस्त उनकी पक्की सच्चाई साबित करने खातिर बहुतायत सबूत हैं !…..अनेकों अपमान पर बढ़ता तेज पराक्रम उनकी हिमालयी मजबूती का प्रमाण है …..स्वदेशी खातिर उनका महासमर्पण हर तूफ़ान को पछाड़ने में समर्थ है !…आपको भी उनकी समर्थता पर गर्व होगा !…हम न आपके नाखून बराबर हैं न उनके बाल बराबर हो सकते हैं ,….लेकिन हैं तो वही कहेंगे जो समझ पाएंगे !
अन्नाजी आखिर में फिर विनती करते हैं ,…आप सीधे सरल हैं ,..आप जो चाहे करें !….लेकिन हम पर दया करते हुए सोचिये जरूर !……..यह युद्ध महान है ,..यह महाविजय हजारों सालों तक मानवता को प्रकाशमय रखेगी !…..वहीँ एक गलती जन्मों तक टीसेगी ,…गलती करना हम नालायक मूरखों का काम है ,…..सही करना आपका महान उत्तरदायित्व है !………लूटतंत्र के पूरे खात्मे खातिर भारत को सच्चा अखिल भारतीय महादल चाहिए !.. …आपके जीवन में सार्थकता स्वामी विवेकानंद को पढकर आई ,….उन्होंने कहा था कि मुझे सौ नाचिकेता दो मैं भारत का उत्थान कर दूंगा !……स्वामी रामदेव जी ने मृत्युभय लालच लोभ कामना से विरक्त और राष्ट्रसेवा में समर्पित हजारों नाचिकेताओं को तैयार किया है !….उनको प्रणाम करते हुए आपको भी उनमें से एक होना चाहिए !…..
आम आदमी पार्टी आगामी नवभारत का विपक्ष है ,…….विपक्ष भी सच्चा होना चाहिए ,……उनके आप की सच्चाई बढ़ाने खातिर हम भगवान से प्रार्थना करते हैं !….लेकिन भारत पक्ष की जगह पूरी खाली है ,…. पूर्णसच को अपनी सत्ता लेनी होगी !…पांच सौ से ज्यादा सीट भारत पक्ष जीते और बाकी पर विपक्षी आवाज सुनाई पड़े ,…खाऊ कांग्रेस भाजपा एंड पालतू बैंगन कंपनी को एक सीट क्या एक वोट न मिले तो भारत का पूरा कल्याण मानेंगे !…भारत का सुन्दर नवानिर्माण होना अटल सत्य है ….सच्ची सेवा ही सत्ता की सनातन अधिकारी है ,…वही राष्ट्र और मानवता को उठा सकता है !…… स्वामीरामदेव जी सच के सच्चे महारथी राष्ट्रनायक राष्ट्रसेवक हैं !… आखिरी जीत सदा सच की ही होगी !….आप कृपापूर्वक सच अपनाइए .. आपका सच विजयी होगा ! ……..आप सदा स्वस्थ हों दीर्घायु हों सदा प्रसन्न रहें ,..यही हमारी प्रभु से विनती है !……..आपको फिर पैर छूकर परनाम ……सादर वन्देमातरम !..”
चिट्ठी समाप्त होने पर पंचायत में सहमति के साथ आपसी गपशप शुरू हो गयी ………….क्रमशः !

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 4.25 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran