हमार देश

एक आम आवाज

237 Posts

4359 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 4243 postid : 652577

मूरख पंचायत ,.....नौ नवा इक्यासी !

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आदरणीय मित्रों ,.बहनों एवं गुरुजनों ,..सादर प्रणाम …………आपके मूरखों की पंचायत फिर लगी है ,….आँखों देखे हाल में पुनः आपका हार्दिक स्वागत है !…

…………………..

हमेशा की तरह मूरखों की जमावट है ,……..सूत्रधार ने अभिवादन स्वागत के साथ औपचारिक शुरुआत की …फिर व्यंग्य के अंदाज में बोले …

“….विकराल लूटों के बाद कांग्रेस ने भयानक विश्व रिकार्ड बना लिया ,…...गाँधी गुलाम लूटतंत्र ने स्वामीजी पर एकसाथ इक्कासी मुक़दमे और लगाए !……हजारों घोर अपराध करने वाला देशद्रोही कुनबा जागे भारत को गिराने खातिर बेचैन है !..”

एक बुजुर्गा माई बोली ………….“…बहुतै बेचैन होगा भैय्या !….शैतान मगरमच्छों का खूनी जबड़ा भारतीय जकड में है ,….पागलपन में पूँछ फटफटाती है !.”

पीछे से मरियल बुजुर्ग धीमी आवाज में उचके ……………“..अंग्रेजी लूटतंत्र हमेशा यही किया ,….इनकी मक्कारी से बचा कौन !…जयचंदों ने लाखों सपूतों को मरवाया !..रानी लक्ष्मीबाई जैसी युगनारी को सिंधिया जैसे जयचंदों ने मरवाया !…….भगत सुभाष आजाद से लेकर श्यामाप्रसाद मुखर्जी शास्त्रीजी सब साजिशन मरवाए गए !….महान देशभक्त राजीव भाई को मरवाया !..हर देशभक्त को मारने मिटाने गिराने का ठेका कांग्रेसी तंत्र का है ,…..स्वामीजी ने सोया भारत स्वाभिमान जगा दिया !…….दिल्ली में उनको मारने की साजिश फेल हो गयी ,..और तमाम गुप्त साजिशें फेल हुई !…. सीबीआई आईबी सेल टैक्स इनकम टैक्स वाले जीजान से भिडाये गए ,……बेदाग़ महात्मा में एक दाग न ढूंढ पाए तो और पगलाए !..”……बाबा का दम और कमजोर हुआ तो दूसरे बुजुर्ग बोले

“…अब गुलाम मुख्यमंत्री ने दांव लगाया है ,….गाँधी लोग सब तरीका आजमाएंगे !…..सनातन सोने की चिड़िया कब्जाकर मौज से लूटने वाले मानवद्रोही आसानी से काहे भागेंगे !..”………………. बुजुर्ग के जरा निरुत्साह पर फटी चादर ओढ़े युवा तमका

“..भारत से इनके मरे बाप भी भागेंगे !…….. निशानियाँ तक दफ़न होंगी !…..सच के सामने महाझूठ का हर दांव धड़ाम गिरेगा !……इक्कासी हजार मुक़दमे ठोंकेंगे फिरौ भारत स्वाभिमान एक सूत न झुकेगा !….”

हरी साड़ी वाली महिला बोली ………..“…पतंजलि के मानवसेवी सदकर्म दुनिया जानती है ,………गिरे भारत गिरी मानवता के उत्थान खातिर प्रण प्राण से जुटे महामानव का हौसला और बढ़ेगा !…..सदा स्वामीजी की जय होगी !……”

एक युवा बोला ……….“..स्वामीजी खुली चुनौती दिए हैं !………. संविधानी ताकत चोर की तरह मीडिया पर न चढ़े !….दम है तो कांग्रेसी गिरोह स्वामीजी से देश के सामने आमना सामना करे !……खुली पंचायत में कांग्रेसी माई बाप बच्चे मनेजर प्रबंधक एक तरफ ……स्वामीजी एक तरफ होंगे !……….हर बहस कर लो !..”

“..कांग्रेसियों ने माँ के दूध से लाखों करोड़ों गुना हमारा खून पिया है !…… खुली बात करने की औकात राक्षसों में नहीं है ,…..विदेशी टट्टू केवल साजिश करेंगे !…..भारत भक्त को छल कपट से दबाएंगे ..”………….दूसरा भी दहाड़ा तो बुजुर्ग माई बोली .

…….“…दाबने से लहर सुनामी उठती है कल्लू !…….दाब से ज्वालामुखी फूटता है ,…भारत लूटने काटने मिटाने वाले सब शैतानों की भसम तक बह जायेगी !…”……..

एक युवती ने भी मुंह खोला ……….“..बेशर्मों अत्याचारियों अपराधियों को तनिकौ शरम नहीं आती !……गुलाम डाकू मुख्यमंत्री चोर डीएम के काँधे पर बैठकर प्रेस वार्ता करता है ,…..”

एक पंच से रहा न गया ……….“..उनका मकसद कौनो तरह स्वामीजी का अपमान करना है !…….उनको मिलते अथाह जनसम्मान घटाने खातिर सब उठक बैठक है !…..बहुगुणा अपराधी की तरह प्रेसवार्ता किया ,…स्वामीजी ने एक इंच एक पाई की गलती नहीं करी !..एक नवा पैसा गलत होते तो पांच साल से सोनिया गाँधी एंड लूटेरा संस् के खिलाफ सीनातान के न खड़े होते !… साजिशें परवान चढाने खातिर डाकुओं के तमाम गुलाम औजार हैं !….घोर अनैतिक बहुगुणा उनका ही प्यादा है !.”

दूसरे भी बोले ………..“…अरे ई अपनी कब्र और गहरी करते हैं ,..भगवान शैतान से खुद अपना फंदा तैयार करवाते हैं !….जड़मूल से जलने का सामान खुदै जुटाते हैं ,..विनाशकाले उल्टी खोपड़ी !……दुनिया सब असलियत जानती है !…….बदनामी में डूबे शैतान बद्जाती जरूर दिखाते हैं ,…”

“… गुलाम बहुगुणा की काबिलियत केवल गुलामी है ……. भयानक त्रासदी में लाशों के ढेर पर मस्ती किया !.. पक्की गद्दी का ईनाम मिला ,…..दिल्ली से मिलकर देश का हजारों करोड़ रुपया उड़ा दिया !…गुलाम मोहन तक ने सहायता की भीख मांगी ,… सब मिलकर डकार गए ,…स्वामीजी ने भरसक पीड़ा मिटाई !….अनेकों बर्बाद इंसानों को राहत पुनर्वास दिया ,…..शैतान उनको मिटाने पर तुले हैं ,…. डाकू मालकिन का कुछ हक अदा हुआ होगा !…”………बुद्धिजीवी टाइप वाला मूरख बोला तो साथी शुरू हुआ

“..गांधियों को चम्मच चाटुकार समेत ऊपर से नीचे तक जूतों से गंजा करना चाहिए !..”

बुद्धिजीवी फिर बोला ………..“…आजकल नए नकली बाल लग जाते हैं !……… बेहया आँख का पानी मंगल की तरह सूख जाता है !..”

साथी ने फिर ताल भिड़ाई ……….“..बार बार गंजा करना चाहिए भैय्या !……. शासन किन दरबारों में मुजरा करता है ,…डीएम किस दवाई से जोश में आया !…लाखों करोड़ों इंसानों की सेवा उनको नहीं दिखती !….”

आगे बैठे बुजुर्ग गुस्से से बोले ………“….उनको इंसान से का मतलब !..उनका मतलब भारत खाना है ,…जो टांग फंसाए उसे फंसाना जरूरी है ,……डीएम को बावासीरी नेता की लंगोटी जानो ,…….लुटेरे नेताओं की गुलामी करना चोर अधिकारियों की मजबूरी है !…गांधियों की सनातन गद्दारी जगजाहिर है !………डीएम बेचारा का करे ,…अपनी मलाई खाकर भौंकना काटना उनका धंधा है !….कुत्ते से भेड़ियों में तब्दील होने में फायदा है !…..”

एक युवा बोला ……….“..ऐसा है काका ,….चोरों की चुनाव सभा में मुश्किल से हजार लोग किराए पर मिलते हैं !..काले कारनामों पर चौतरफा जूते पड़ते हैं ,…उधर स्वामीजी मोदी खातिर लोग लाइन में लगते हैं !…..उनको चंदा देकर सुनते हैं ,…मक्कार सल्तनत के तोते उड़े हैं !….ई खातिर गुलामतंत्र मीडिया के सहारे नित नए भौकाल गांठता हैं !..”

“..अब भौकाल न गंठेगा भैय्या ……चोर डाकुओं को पूरी कीमत चुकानी होगी !..”………..एक महिला ने तंज कसते हुए कहा तो एक पंच फिर बोले

“..आधे भारत को कांग्रेसी तंत्र ने मुफत में नीलाम कर दिया !..जल जंगल जमीन आसमान पाताल सब लुटाया गया !……वाड्रा डीएलएफ जैसे हजारों लाखों शाही दमाद अथाह जमीन संपदा खा पचा गए !….नेहरू के जीप घोटाले से सोनिया मोहन के महाघोटालों तक भारत नुचता रहा !….शैतानी लूटतंत्र को चुनौती देने वालों को अपराधी बताते हैं !….सोनिया बच्चा बच्ची दामाद क्वात्रोची हसनअली जैसे उनके पूजनीय हैं !..”

……….“……चोर पूंजीपतियों को लूटतंत्र अथाह छूट देता है !……उनके साथ मिलकर हमको सबको लूटते हैं ,……..”……मरियल बाबा के कहते वचन पर कोने वाला युवा बोला

“…अरे लाखों करोड़ की टैक्स छूट एक प्याली चाय में मिलती है !… देश लूटकर बोतलें चोलियां खुलती होगी ,…..लुटेरी सरकारें पूंजीपतियों के आगे नंगी रहती हैं !………. पूरी सच्चाई से स्वदेश सेवा करने पर जुल्म होता है !..हे भगवान …..कब आओगे !…”

……….“…सबजगह भगवानै हैं !…. साजिशी चोर लुटेरों हत्यारों का दिमाग तबहीं खराब है !…..तुम अपना दिमाग संभालो ,…..अब इनके मिटने का टाइम है !.”………..आगे बैठी दादी ने युवा को नसीहत दी तो युवा फिर बोला ………. “..हमको एक बात कहते हैं बस ! …………नौ नवा इक्यासी …..गाँधी मांगें फांसी !…”

..सूत्रधार ने आगे कमान संभाली ………..“..जुल्मी राक्षस मिटने तक जुल्मै करेगा भैय्या ,……अब शैतानों का फ़ालतू बात बंद !….भारत का उत्थान कल्यान लुटेरे राजतंत्र को जड़मूल से मिटाकर होगा ,……ऊ खुद मिटने खातिर बेकरार हैं !….फिर गांधियों को फांसी पर लटकाओ … चाहे नुमाइश लगाओ !……..ऊ सब बाद में बतियायेंगे !…………………………………………………आजकल किरकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर रिटायर हुए हैं ,….देश दुनिया उनके सम्मान में डूबी है ,……..हमने भी उनको बधाई वाली चिट्ठी लिखी है ,…..सब लोग पहिले वही सुन लें ,…ऊ किरकेटी भगवान हैं ..उनके कान तक भी पहुँच जायेगी !…..”…………. …क्रमशः

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran